Wednesday, July 20, 2011

करोंदे का अचार

अचार खाने के स्वाद भूख दोंनों को बढ़ा देते हैं, और यदि घर में कई प्रकार के अचार हो, तब तो बहुत ही अच्छा है. इस समय करोंदे बाजार में आ रहे हैं. करोंदे  का अचार बहुत ही स्वादिष्ट बनता है. आइये करोंदे का अचार  बनायें.


सामग्री *****
करोंदे  - ५०० ग्राम
हरा मिर्च-१०० ग्राम
तेल - २५०  ग्राम
हींग -  २ ग्राम
हल्दी पाउडर - १० ग्राम
सोंफ -२५  ग्राम
मेथी-१० ग्राम
मगैरल-१० ग्राम
पीली सरसों,राई-२५ ग्राम
नमक - १०० ग्राम
लाल मिर्च -  १० ग्राम

विधि *** करोंदे को पानी से   धोकर साफ कर लीजिये| थाली या चलनी में रखकर पानी सुखा दीजिये. अब इन करोंदों को दो भागों मे काट लीजिये करोंदे में  से  बीज  चाकू की सहायता से निकाल दीजिये।
मगैरल को वैसे ही रखे भुने नही,सरसो(राई) को बारिक पीस लीजिये।

सभी मसालो को भुनकर पीस ले हिन्ग को थोडे से तेल मे भुन लीजिये।
अब सभी मसालो को व करोंदोको मिला लीजिये।
कढ़ाई में तेल डाल कर गरम कर लीजिये.  गैस बन्द कर दीजिये।तेल ठंडा होने पर अचार मे मिला दीजिये।
 ये करोंदे का अचार बन गया है। करोंदे का अचार को ठंडा होने के बाद, किसी कांच या प्लास्टिक के कन्टेनर में भर कर रख दीजिये।

यदि आप अचार को धूप में रख सकें तो, अचार के डिब्बे को 4-5 दिनों तक धूप में रखिये      
और रोजाना अचार को दिन में एक बार चमचे की सहायता से ऊपर नीचे कर दीजिये.  यदि आप धूप में नहीं रख सकते हैं,तो भी अचार को रोजाना ऊपर नीचे करते रहैं और आप चाहे तो 5-6 दिन बाद  उस में एसेटिक एसीड मिला दीजिये  इससे अचार काफ़ी दिनो तक ताजा रह्ता है।लीजिये अब आप भी बनाइये और खिलाइये

8 comments:

  1. करोंदे के बीज निकालने जरुरी हैं?

    ReplyDelete
  2. स्वाद को बढ़ाने में -सेहत बनाने में -करोंदे का आचार बड़ा काम आएगा .आपने बहुत सरल शब्दों में इसे बनाने की विधि बताई है .आभार

    ReplyDelete
  3. हा शिखा जी,यही काम सबसे कठीन मुझे भी लगता है। बहुत से लोग बिना निकाले बनाते है आप थोडा सा अचार बिना निकाले बना के ट्राई करके देखीये | कुछ बीज तो लम्बाई में काट्ते समय ही निकल जाते है

    ReplyDelete
  4. आपकी पोस्ट की चर्चा कृपया यहाँ पढे नई पुरानी हलचल मेरा प्रथम प्रयास

    ReplyDelete
  5. यह अचार सच ही बहुत स्वादिष्ट होता होगा ...ट्राई करुँगी ...

    पर एक संशय है

    तेल - २५० टेबल स्पून ... क्या यह मात्र सही है ... २५० चम्मच कब तक गिनते रहेंगे ?

    ReplyDelete
  6. आपको गोवर्धन व अन्नकूट पर्व की हार्दिक मंगल कामनाएं,

    ReplyDelete
  7. मगेरल क्या होता है ?

    ReplyDelete